pic credit-ANI

Published on April 10, 2024 2:32 pm by MaiBihar Media

ISRO चेयरमैन डॉ. एस सोमनाथ ने चंद्रयान-4 मिशन को लेकर बड़ा दावा किया है। इसरो प्रमुख ने कहा कि चंद्रयान-4 मिशन एक ऐसा कॉन्सेप्ट है, जिसे अपग्रेडेड वर्जन में विकसित किया जा रहा हैं। मालूम हो कि हाल ही में भारत को चंद्रयान 3 में बड़ी सफलता हासिल हुई थी। अब वैज्ञानिक चंद्रयान मिशन-4 पर काम कर रहे हैं। इस मिशन को लॉन्च करने से पहले चंद्रमा के बारे में हर तरह की जानकारियां इकट्ठा करने के लिए छोटे-छोटे क्राफ्ट भेजे जाएंगे।

अधिक जानकारी देते हुए सोमनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने 2040 में चंद्रमा पर उतरने का लक्ष्य रखा है, जिस पर इसरो लगातार काम कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया है कि एक भारतीय 2040 तक चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। इस मिशन के तहत व्यक्ति चंद्रयान-4 से चंद्रमा पर जाकर सैंपल इकट्ठा करेगा और उसे वापस धरती पर लेकर आएगा।

यह भी पढ़ें   आपका करियर क्या होगा, जाने ज्योतिष के माध्यम से ?

आगे सोमनाथ ने कहा कि स्पेस रिसर्च एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है और भारत इसपर तेजी से काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि पूरा देश गवाह है कि 14 जुलाई 2003 को चंद्रयान-3 लांच किया गया था और 23 अगस्त को इसने चंद्रमा के साउथ पोल पर सॉफ्ट लैंडिंग की थी। भारत चंद्रमा के साउथ पोल पर लैंडर भेजने वाला पहला देश बन गया था।

close

Hello 👋
Sign up here to receive regular updates from MaiBihar.Com

We don’t spam! Read our privacy policy for more info.